अनुशासन 


जीवन में अनुशासन से शक्ति मिले अपार ।
आचरण में हो शुद्धता बने मधुर व्यवहार ।।
कुंजी बने सफलता की जीवन का यह पाठ ।
बाधाएं सब दूर हों , और सपने हों साकार ।। 


अनुशासन में जो रहे करता मन पर राज ।
तन की व्याधि दूर कर , पूर्ण करे सब काज ।।
तन-मन दोनों स्वस्थ्य रहे, मानव बने निरोग ।
अनुशासन की सीख से, हो जीवन का आगाज ।


Popular posts from this blog

वैदिक धर्म की विशेषताएं 

ब्रह्मचर्य और दिनचर्या

अंधविश्वास : किसी भी जीव की हत्या करना पाप है, किन्तु मक्खी, मच्छर, कीड़े मकोड़े को मारने में कोई पाप नही होता ।