खुबानी

खुबानी


        खुबानी एक स्वादिष्ट फल है जिसे अंग्रेजी में apricot के नाम से जाना जाता है और इसका वैज्ञानिक नाम प्रूनस आर्मेनियाका (Prunus Armeniaca) है। खुबानी बीज से युक्त फल है। सूखी ख़ुबानी को भारत के पहाड़ी इलाक़ों में बादाम, अख़रोट और न्योज़े की तरह ख़ुश्क मेवा समझा जाता है और काफ़ी मात्रा में खाया जाता है।


      🌺कश्मीर और हिमाचल के कई इलाक़ों में सूखी ख़ुबानी को किश्त या किष्ट कहते हैं। खुबानी आमतौर से नारंगी और पीले रंग के होते हैं। ख़ुबानी का फल एक छोटे आड़ू के बराबर होता है। इसका रंग आम तौर पर पीले से लेकर नारंगी होता है लेकिन जिस तरफ सूरज पड़ता हो उस तरफ यह फल लाल रंग भी पकड़ लेता है। खुबानी का छिलका मुलायम और हल्का खुरदरा होता है।


       🥀खुबानी में पोटेशियम, विटामिन सी, बी 1 और बी 2, ई और बीटा कैरोटीन जो की स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद है इसके सेवन से आँखों की बीमारियों में लाभ होता है और साथ ही लीवर भी सही रहता है।


🌺खुबानी के फायद
🥀हड्डियों में फायदेमंद खुबानी-
         खुबानी में लोहा , कैल्शियम और मैगनीज भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाते हैं और हड्डियों से जुडी अधिकतर सभी समस्याओं को ठीक करते हैं।


🍂कोलेस्ट्रॉल में फायदेमंद खुबानी-
          Apricots में पर्याप्त मात्रा में fiber भी होता है जिसकी वजह से यह हमारे रक्त में शर्करा का लेवल और साथ ही cholesterol का लेवल भी नियमित करने में मदद करता है।


🌺ह्रदय में फायदेमंद खुबानी-
         खुबानी में विटामिन c और फाइबर उच्च मात्रा में पाया जाता है जो हमारे ह्रदय को स्वस्थ रखने में मदद करता हैं और इसमें पौटेसियम भी उच्च मात्रा में पाया जाता है जो धमनियों के तनाव को कम करता है और ह्रदय को स्वस्थ रखता है।



🌹जानिए ह्रदय रोग के सभी लक्षणों के बारे में – ह्रदय रोग के लक्षण


🌻पाचन तंत्र के लिए खुबानी फल-
        खुबानी में फाइबर उच्च मात्रा में पाया जाता है जो पाचन तन्त्र को ठीक करता है और पाचन से सम्बंधित अधिकतर सभी रोगों में लाभ देता है।


🌺कान दर्द में फायदेमंद खुबानी का तेल-
        कान में दर्द होने पर खुबानी के तेल की 1-2 बूँद कान में डालें इसके तेल को कान में डालने से कान में दर्द जल्दी से बंद हो जाता है क्यूंकि इसके तेल में एंटी ओक्सिडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है।


🌼आंखों में फायदेमंद खुबानी फल
         खुबानी में विटामिन a के साथ एंटी ओक्सिडेंट गुण भी पाए जाते हैं जो आँखों के रोग को दूर रखते हैं और रंतोधी रोग में रोगी को लाभ मिलता है।


🍃बुखार में फायदेमंद खुबानी फल-
         बुखार होने पर खुबानी का सेवन करें इसका सेवन करने से बुखार जल्द ही ठीक हो जाता है और बुखार के साथ ही गठिया रोग में भी लाभ मिलता है।


🌻जानिए : बुखार के लिए घरेलू नुस्खे
त्वचा सौंदर्य के लिए खुबानी फल-
        खुबानी के सेवन से कील, मुंहासे, त्वचा संक्रमण इत्यादि खुबानी के सेवन से दूर हो सकते है। इतना ही नहीं वर्तमान में उघोग जगत में खुबानी का प्रयोग करके सौंदर्य उत्पाद भी बनाए जा रहे हैं।


🍂एनीमिया रोग में फायदेमंद खुबानी-
       खुबानी हिमोग्लोबिन की उच्च मात्रा होती है अगर हमारे शरीर में हिमोग्लोबिन की मात्रा बढती है तो एनीमिया रोग ठीक हो जाता है क्यूंकि एनीमिया रोग हिमोग्लोबिन की कमी के कारण होता है।


🍁वजन कम करता है खुबानी फल-
        अगर आप डाइटिंग पर हो या अपना वजन कम करना चाहते हो तो आपको कैलोरी का सेवन करना चहिये और खुबानी में कैलोरी उचित मात्रा में होती है जो वजन घटने में मदद करती है।


🌺कैंसर रोग में फायदेमंद खुबानी-
        खुबानी के बीजों में कैंसर निरोधी तत्व मौजूद होते हैं। शोधों से भी यह बात साबित हो चुकी हैं कि खुबानी बीज में पाया जाने वाला विटामिन बी-17 सामान्य कोशिकाओं के लिए पूर्णतया सुरक्षित है और जो कैंसर से बचाव में लाभकारी है।


🍁जानिए कैंसर रोग का इलाज : कैंसर रोग के लक्षण और सफल इलाज
🌺कब्ज में फायदेमंद खुबानी-
        सूखी खूबानी में पेक्टिन होता है। इसमें मौजूद सेलूलोज एक हल्की विरेचक औषधि है जो कब्ज के उपचार में मदद करती है। सेल्यूलोज एक अघुलनशील फाइबर के रूप में कार्य करता है और पेक्टिन कब्ज के दौरान शरीर में पानी के स्तर को बनाए रखता है।


🌾गर्भावस्था में फायदेमंद खुबानी-
       खुबानी के सेवन से बांझपन, नकसीर और ऐंठन जैसी बिमारियों में लाभ मिलता है इस सूखे फल का पेस्ट योनि संक्रमण का इलाज कर सकता है। गर्भवती और स्तनपान करावाने वाली माताओं द्वारा इसका सेवन नियमित रुप से करना चाहिए।


🌺खुबानी के सेवन करने का तरीका और सही समय-
1. 🌻चटनी बनाकर : खुबानी का सेवन हम एक तरीके से चटनी बनाकर कर सकते हैं चटनी बनाने के लिए सुनहरी खुबानी में कच्चे आम व चीनी मिला फिर इसकी चटनी बना लें अब इसका सेवन करें।


2. 🌸पके हुए खुबानी का सेवन : जैसे आप दूसरे फलों का सेवन करते हैं ठीक वैसे ही आप खुबानी का सेवन भी कर सकते हैं सबसे पहले खुबानी को धो लें फिर इसे काट कर सेवन में लें।


3. 🌷सलाद के रूप में : खुबानी को सलाद में सामिल करके इसका सेवन कर सकते हैं जैसे आप टमाटर खीरे की सलाद का सेवन करते हैं ठीक ऐसे ही खुबानी का सेवन भी कर सकते हैं।


4. 🌺खुबानी का रश : खुबानी रश जल्दी हजम होने वाला होता है रश निकालने के लिए खुबानी को छीलकर उसके टुकड़े करके मिक्सर में डालकर मिक्स कर दें फिर इसका सेवन करें।


5. 🥀खुबानी का मुरब्बा : अगर आप पका हुआ खुबानी नही खा सकते तो आप खुबानी के मुरब्बे का सेवन कर सकते हैं।


🥀खुबानी की किस्में-
        हाल ही में खुबानी की कई किस्मों को बाहर किया गया है, जो गंभीर सर्दियों के लिए अपेक्षाकृत खराब हैं। भारत में खुबानी की कई किस्में पायी जाती हैं जो की इस प्रकार हैं जैसे सफेद, काले, गुलाबी और भूरे (Gray) रंग। रंग से खुबानी के स्वाद पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता, लेकिन इसमें जो कैरोटीन होता है, उसमें जरूर अंतर आ जाता है।


🌾सूखे खुबानी-
        खुबानी जब सूख जाता है तो उसे सूखा खुबानी बोलते हैं जब यह सूख जाता है तो इसमें जल की मात्रा 30% कम हो जाती है इसलिए सूखे खुबानी को जल में भिगो कर खाना चाहिए। सूखे खुबानी में पोटेशियम, विटामिन सी, बी 1 और बी 2, ई के साथ-साथ लोहा, कैल्शियम और फास्फोरस होता है।


🥀ख़ुबानी के बीज-
         खुबानी के फल के अंदर एक गुठली होती है जिसके अंदर खुबानी का बीज पाया जाता है जो बादाम की तरह होता है और ख़ुबानी की बहुत सारी क़िस्मों में इसका स्वाद एक मीठे बादाम सा होता है।


🌺इसे खाया जा सकता है, लेकिन इसमें हलकी मात्रा में एक हैड्रोसायनिक ऐसिड नाम का ज़हरीला पदार्थ होता है। बच्चों को ख़ुबानी का बीज नहीं खिलाना चाहिए। बड़ों के लिए यह ठीक है लेकिन उन्हें भी एक बार में ५-१० बीजों से अधिक नहीं खाने चाहिए। इसलिए उचित मात्रा में ही खुबानी के बीजों का सेवन करें।


🌺कभी न करें खुबानी के बीजों का सेवन-
        कभी भी खुबानी के बीजों का सेवन नही करना चहिये क्यूंकि एजेंसी के अनुसार, खुबानी के बीजों में विटामिन बी17 की उच्च मात्रा पाई जाती है, जो खुबानी का सेवन करने पर साइनाइड में परिवर्तित हो जाता है।


🌹और एक समय में 10 से 15 बीजों की खपत कई बुरे प्रभाव जैसे उंगलियों का सुन्न हो जाना और इसकी 30 बीजों की खपत जानलेवा साबित हो सकती है। इसके अलावा इसके 30 या इससे अधिक बीज का सेवन जानलेवा साबित हो सकता है।


🍂खुबानी के नुकसान-
अगर आप खुबानी फल का जादा मात्रा में सेवन करेंगे तो आपको नीचे दी गयी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है इसलिए खुबानी को उचित मात्रा में ही सेवन में लें।


1.🌻 मधुमेह रोग में : मधुमेह रोगियों को खुबानी का सेवन नही करना चहिये मधुमेह के रोगियों के लिए यह नुकसान दायक हो सकता है खाने से पहले डॉ से परामर्श लें।


2. 🌺बीजों का सेवन : खुबानी फल के साथ उसके बीज को खाना जानलेवा हो सकता है।


3.🌻 खुबानी के अधिक सेवन से : खुबानी के अधिक सेवन से उल्टी, बुखार, सिरदर्द, अनिद्रा, बढ़ती प्यास, सुस्ती, घबराहट, जोंड़ों और मांसपेशियों में विभिन्न दर्द, लो ब्लड प्रेशर जैसी समस्या भी हो सकती है।


4. 🌻एलर्जी हो सकती है : जो लोग इसका पहली बार सेवन करते हैं तो उनको कम मात्रा में सेवन करना चहिये क्यूंकि इसके अधिक सेवन से एलर्जी हो सकती है।


5. 🌺निम्न रक्तचाप में : निम्न रक्तचाप के रोगियों को खुबानी का कम ही सेवन करना चहिये इसके अधिक सेवन से निम्न रक्तचाप वाले रोगियों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।


6.🌼 फ्रिज में न रखें : कभी भी फ्रिज में रखा हुआ खुबानी का सेवन न करें क्यूंकि इसको फ्रिज में रखने से खुबानी के सभी पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं।


Popular posts from this blog

वैदिक धर्म की विशेषताएं 

ब्रह्मचर्य और दिनचर्या

अंधविश्वास : किसी भी जीव की हत्या करना पाप है, किन्तु मक्खी, मच्छर, कीड़े मकोड़े को मारने में कोई पाप नही होता ।