विद्यावान कौन

*🔥ओ३म्🔥*


*_🌹वेद वचन🌷_*


*🍁त्वम॑ग्न॒ इन्द्रो॑ वृष॒भः स॒ताम॑सि॒ त्वं विष्णु॑रुरुगा॒यो न॑म॒स्य॑: । त्वं ब्र॒ह्मा र॑यि॒विद्ब्र॑ह्मणस्पते॒ त्वं वि॑धर्तः सचसे॒ पुरं॑ध्या ॥🍃* ऋक्॰२/१/३ 
 *📝भावार्थ-*_🌼"जो मनुष्य ब्रह्मचर्य से आप्त विद्वानों के समीप से विद्या शिक्षा को प्राप्त हुआ ईश्वर के समान उपकार- दृष्टि से प्रशंसा और सत्कार को प्राप्त हुआ प्रतिदिन  उत्तम बुद्धि से समस्त शुभ गुण, कर्म और स्वभावों को धारण करता  है वह सम्पूर्ण   विद्यावान् होता है ।"🥀_
       *💥शम्💥*
             🔥
              🚩


Popular posts from this blog

वैदिक धर्म की विशेषताएं 

ब्रह्मचर्य और दिनचर्या

अंधविश्वास : किसी भी जीव की हत्या करना पाप है, किन्तु मक्खी, मच्छर, कीड़े मकोड़े को मारने में कोई पाप नही होता ।