महात्मा गाधीं की निम्न बातें हर किसी का मार्ग दर्शन कर सकती है।

महात्मा गाधीं की निम्न बातें हर किसी का मार्ग दर्शन कर सकती है।


 


       महात्मा गांधी के साथ उनकी राजनैतिक नितीयों और विचारधारा के बारें में तो भिन्नता हो सकती है, और शायद प्रासंगिक न भी रहें परन्तु उनके द्वारा कही निम्न बातें किसी भी व्यक्ति, समाज और देश के लिये सदैव प्रासगिंक रहेंगी व मशाल का काम कर सकती है-


     1 श्रम किये बगैर समृद्धि विकृति है


     2 विवेकरहित आन्नद विकृति है


     3 चरित्र बिना ज्ञान विकृति है


     4 मूल्यरहित व्यापार विकृति है।


     5 संवेदनाशून्य विज्ञान विकृति है


     6 सिद्वान्तरहित राजनिती विकृति है।


     7 संमति का टरस्टी बने न कि मालिक


     8 सत्य को सर्वोपरी मानें।


     9 आपकी अपनी व अपने आसपास की स्वच्छता आपकी निजी जिम्मेवारी है


    10 आत्म निरिक्षण, आत्मचिन्तन, आत्मनिरंत्रण व कर्म से पीछे न हटना आपको अन्दर की स्वष्छता की और ले जाता है।


    11 जो भी करें पहले देखें की सबसे गरीब और कमजोर व्यक्ति पर उसकर क्या असर हो रहा है। 


Popular posts from this blog

वैदिक धर्म की विशेषताएं 

ब्रह्मचर्य और दिनचर्या

अंधविश्वास : किसी भी जीव की हत्या करना पाप है, किन्तु मक्खी, मच्छर, कीड़े मकोड़े को मारने में कोई पाप नही होता ।