कार्यों में सावधानी

कार्यों में सावधानी



      चारपाई जहां पड़ी हो-वहाँ से उठाना चाहो-तो पहले उसके नीचे दृष्टि घुमा लो, तब उठाओ। घरों में माताएं चारपाई के नीचे कई बर्तन चीजों से भर कर रख देती हैं । कभी, न देखने से, शीघ्रता से उठाने से चारपाई का सिर या पांव लगकर ठोकर दे देता है, और वह वस्तु टूट पड़ती है-या गिर जाती है। कभी कुत्ता बैठा हुआ होता है-उसे चोट लगने से वह काट खाता है। कभी सांप बैठा होता है और वह भी काट खाता है।


Popular posts from this blog

वैदिक धर्म की विशेषताएं 

ब्रह्मचर्य और दिनचर्या

अंधविश्वास : किसी भी जीव की हत्या करना पाप है, किन्तु मक्खी, मच्छर, कीड़े मकोड़े को मारने में कोई पाप नही होता ।