भगवान कब याद आता है

भगवान कब याद आता है


1. विद्यार्थी को परीक्षा के दिनों में।


2. गरीब को भूख लगने पर।


3. दुकानदार को एक भी ग्राहक न आने पर।


4. कंजूस को पैसे खो जाने पर।


5. मित्र को मित्रता नष्ट हो जाने पर।


6. राजा को प्रजा बिगड़ जाने पर।


7. राजनीतिज्ञों को चुनाव के समय।


8. अफसरों को रिश्वत लेते समय पकड़े जाने पर।


9. चोर को पकड़े जाने पर।


10. नेताओं को चुनाव में हार जाने पर।


11. पापी को मृत्यु के समय।


12. किसान को खेती के नष्ट होने पर।


13. शिष्यों को गुरू के रूष्ट होने पर।


14. किन्तु परमज्ञानी को हर समय।


15. वास्तव में भगवान तब याद आता है जब कोई मर जाता है।


 


Popular posts from this blog

वैदिक धर्म की विशेषताएं 

ब्रह्मचर्य और दिनचर्या

अंधविश्वास : किसी भी जीव की हत्या करना पाप है, किन्तु मक्खी, मच्छर, कीड़े मकोड़े को मारने में कोई पाप नही होता ।